Header Ads Widget

header ads

कृष्ण भगवान के भजन / भजन कीर्तन - कृष्ण भाजन, न्यू free 2023

                        ।। कृष्ण भजन ।।

भजन: 

कृष्ण भजन

                             कृष्ण भजन

Hindi Lyrics ;


इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से निकले। 

गोविन्द नाम कहकर मेरे प्राण तन से निकले । 

श्री जमना जी का तट हो और सांवरा निकट हो । 

श्री वृन्दावन का तल हो मेरे मुख में तुलसीदल हो । 

श्री विष्णु चरण का थल हो जब प्राण तन से निकले।

 निकट सांवरा खड़ा हो वंशी का सुर भरा हो । 

तिरछी चरण छटा हो जब प्राण तन से निकले । 

सिर सोहना मुकुट हो मुखड़े पे काली लट हो । 

ये ही ध्यान मेरे घट हो जब प्राण तन से निकले । 

जब निकले प्राण सुख से तेरा नाम निकले मुख से । 

बच जाऊँ दूसरे दुख से जब प्राण तन से निकले । 

जब प्राण कंठ आवे कोई रोग न सतावे । 

तुम दर्श फिर दिखाओ जब प्राण तन से निकले । 

ये जरा सी अरज है माँगे तो क्या हरज है । 

कुछ तेरा भी फरज़ है जब प्राण तन से निकले । 

इस दास की है अरजी आगे है तेरी मरजी । 

करता है ये ही अरजी जब प्राण तन से निकले।


जन : 

English Lyrics ;


itana to karana svame jab pran tan se nikale.

Govind nam kahkar mere praan tan se nikale.

shree jamana je ka tat ho aur sanvara nikat ho.

shree vrndavan ka tal ho mere mukh mein tulasedal ho.

shree vishnu charan ka sthal ho jab pran tan se nikale.

nikat sanvara khada ho, vanshi ka sur bhara ho.

tirachhee charan chhata ho jab praan tan se nikale.

ser sohana mukut ho mukhade pe kale lat ho.

ye hee dhyan mere ghat ho jab pran tan se nikale.

jab nikale pran sukh se tera nam nikale mukh se.

bach jaon dosare duhkh se jab pran tan se nikale.

jab pran kanth ave koe rog na satave.

tum darshan phir dikhao jab pran tan se nikale.

ye jara se arj hai mangate to kya harja hai.

kuchh tera bhe farz hai jab pran tan se nikale.

is das ke hai araje age hai tere maraje.

Karta he yahe hai araje jab pran tan se nikale.

FAQ:

कृष्ण भजन हिंदी ?

ऊपर दिए गया है।हिन्दी और अंग्रेजी Lyrics में।

श्री कृष्ण भजन ?

ऊपर दिए गया है।


Post a Comment

0 Comments